Salary Slip Check कैसे करें? Salary Slip Format pdf / Importance & Components

Salary Slip in Hindi : किसी भी नौकरी पेशा व्‍यक्ति के लिये Salary Slip ( वेतन पर्ची ) एक बहुत ही अहम दस्‍तावेज होती है। नौकरी पेशा आदमी अपनी सैलरी पाकर जितना खुश होता है, उतना ही सुकून वह अपनी सैलरी स्लिप को पाने के बाद महसूस करता है।

एक सरकारी / गैर सरकारी नौकरी पेशा व्‍यक्ति अपनी सैलरी स्लिप को जरूर चेक करना चाहता है, ताकि उसे पता चल सके कि उसकी Salary Slip में दर्ज वेतन संबंधी डीटेल्‍स में किस किस मद में वेतन कटौती की गयी है।

वेतन पर्ची एक ऐसा Document है जिसमें किसी भी Employee के वेतन संबंधी सभी सूचनायें दर्ज होती है। मसलन उसे कितना वेतन मिल रहा है, कितना टैक्‍स काटा गया है और किस किस मद में काटा गया है।

Salary Slip की सहायता से वह अपने अपने वेतन के रूप में मिलने वाली रकम का तथा एक-एक पैसे का हिसाब पा सकता है।

Contents

Salary Slip क्‍या है? What is Salary Slip Details in Hindi

All About Salary Slip in Hindi
अपनी सैलरी स्लिप को जानें

Salary Slip Kya Hai : यह एक ऐसा दस्‍तावेज होता है, जिसमें वेतन, वेतन कटौती तथा कुछ राज्‍यों में लगने वाले अतिरिक्‍त टैक्‍स की जानकारी अनिवार्य रूप से दर्ज होती है।

इस वेतन पर्ची को बहुत संभाल कर रखा जाता है। क्‍योंकि इस दस्‍तावेज की नौकरी पेशा व्‍यक्ति को कभी भी जरूरत पड़ सकती है।

Salary Slip कैसे देखी जाती है? वेतन पर्ची कैसे देखें – सैलरी स्लिप को समझने का आसान तरीका

How to Check Salary Slip : जब हम अपनी सैलरी स्लिप ( वेतन पर्ची) को देखते हैं, तो हमें उसमें 2 या 3 कॉलम दिखाई पड़ते हैं। सैलरी स्लिप को समझने का सबसे अच्‍छा तरीका यह है कि हम पहले वेतन पर्ची में दर्ज सभी कॉलम को अच्‍छी तरह समझ लें।

यदि आपके पास अपनी खुद की सैलरी स्लिप है, तो उसे ध्‍यान से देखें कि उसमें दर्ज इनहैंड सैलरी तथा उसमें हुई कटौती के मुख्‍य पार्ट क्‍या क्‍या हैं?

वेतन पर्ची के मुख्‍य भाग

( Salary Slip Main Highlights 2021 )

अब हम आपको आपकी वेतन पर्ची में दर्ज सभी जानकारियों को बिंदुवार समझाने का प्रयास कर रहे हैं, इससे आपको यह समझने में सहायता मिलेगी कि आपको मूल वेतन के अतिरिक्‍त और क्‍या क्‍या लाभ प्राप्‍त होते हैं अथवा कौन कौन से टैक्‍स आपको देय होते हैं।

बेसिक सैलरी यानि मूल वेतन

आपकी वेतन पर्ची में सबसे पहले जिस बात का उल्‍लेख होता है, वह आपकी बेसिक सैलरी से संबंधित होता है। किसी भी नौकरी पेशा व्‍यक्ति की सैलरी उसके मूल वेतन का 35% से 40% तक होती है।

मकान किराया अलाउंस ( HRA )

प्रत्‍येक वेतन पर्ची में मकान किराया अलाउंस ( HRA ) का उल्‍लेख अनिवार्य रूप से होता है। यह लगभग प्रत्‍येक श्रेणी के नौकरी पेशा लोगों को प्रदान किया जाता है। यह आपकी बेसिक सैलरी का 50% तक हो सकता है।

HRA देश के सभी शहरों के ग्रेड के आधार पर तय होता है। मसलन यदि आप मुंबई, दिल्‍ली अथवा कोलकाता जैसे शहरों में रह रहे हैं, तो यह 50% तक हो सकता है।

लेकिन यदि आप लखनऊ, भोपाल, जयपुर जैसे शहर में रह रहे हैं, तो आपको 40% तक हाउस रेंट अलाउंस दिया जा सकता है।

आप किरायेदार के रूप में एक वर्ष में जितना किराया देते हैं, उसमें बेसिक सैलरी का 10% हिस्‍सा घटाने के बाद जो बचता है, उसे भी हाउस रेंट माना जा सकता है। कंपनी इन दोनों हिस्‍सों में से जो भी सबसे कम होता है, वह हिस्‍सा अपनी ओर से आपके सैलरी अकाउंट में जमा करती है।

कन्‍वेंस अलाउंस – ट्रेवल अलाउंस

जब आप किसी कंपनी अथवा विभाग में नौकरी करते हैं, तो कंपनी या डिपार्टमेंट के काम से आपको बाहर आना जाना पड़ता है। ऐसे में कंपनी आपको वाहन भत्‍ता / यात्रा भत्‍ता प्रदान करती है।

कंपनी के काम से यात्रा करने पर आपको दिया जाने वाला वाहन भत्‍ता / यात्रा भत्‍ता आपकी इनहैंड सैलरी में जोड़ कर दिया जाता है। इस बात का स्‍पष्‍ट उल्‍लेख आपकी वेतन पर्ची में किया जाता है।

मेडिकल अलाउंस का जिक्र Salary Slip में

आप जिस कंपनी में काम करते हैं, उसके द्धारा आपको जरूरत पड़ने पर मेडिकल कवर प्रदान किया जाता है। इस रकम का प्रयोग नौकरी पेशा लोग जरूरत पड़ने पर कर सकते हैं। आपके वेतन से कंपनी के द्धारा ESIC के लिये कुछ पैसा काटा जाता है। ताकि जरूरत पड़ने पर कमचारी अपनी स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी जरूरतों को पूरा कर सके।

आपके वेतन में यह कटौती 21,000 रूपये तक होती है। आपके वेतन में होने वाली इस कटौती का लाभ आपको अपना मेडिकल प्रमाण पत्र प्रस्‍तुत करने पर मिलता है। इस बात का स्‍पष्‍ट उल्‍लेख आपकी वेतन पर्ची में होता है।

स्‍पेशल अलाउंस (विशेष प्रकार का भत्‍ता)

आपकी Salary Slip में स्‍पेशल अलाउंस का भी उल्‍लेख होता है। यह एक विशेष प्रकार का भत्‍ता होता है, जो कंपनी के द्धारा अपने कर्मचारियों को अच्‍छा काम करने के लिये प्रोत्‍साहन के रूप में दिया जाता है।

अलग अलग कंपनियों में इसकी दर अलग अलग होती है। यह अलाउंस पूरी तरह कर योग्‍य होता है। यदि आपको कंपनी के द्धारा यह प्राप्‍त नहीं हो रहा है, तो आप इसके बाबत पूछतांछ कर सकते हैं।

प्रॉविडेंट फंड कटौती (PF Account)

वेतन पर्ची में आपके वेतन से काटा जाने वाला प्रॉविडेंट फंड धनराशि का उल्‍लेख होता है। यदि आप यह जानना चाहते हैं कि कितना पीएफ कटता है ( PF Kitna Katta Hai, Kitna PF Kata Jata Hai ) तो यह जानने का सबसे अच्‍छा तरीका यह है कि आप इस बात की जानकारी अपनी सैलरी स्लिप को देख कर करें। वैसे यह नौकरी पेशा लोगों की सैलरी का 12% काटा जाता है।

पीएफ का पैसा कट जाने के बाद यह आपके पीएफ अकाउंट में जमा कर दिया जाता है। जिसे आप नौकरी छोडने अथवा आवश्‍यक्‍ता पड़ने पर मय ब्‍याज के वापस ले सकते हैं।

Profit Tax

आपकी वेतन पर्ची में प्रोफिट टैक्‍स का भी जिक्र होता है। यह टैक्‍स कुछ राज्‍यों में कटता है और कुछ में नहीं।

जिन राज्‍यों में प्रॉफिट टैक्‍स लगता है उनकी सूची

  • मध्‍यप्रदेश – बिहार
  • झारखंड – उड़ीसा
  • त्रिपुरा – मेघालय
  • छत्‍तीसगढ़ – असम
  • केरल – गुजरात
  • तमिलनाडु – तेलंगाना
  • महाराष्‍ट्र – आंध्रप्रदेश
  • पश्चिम बंगाल – कर्नाटक

Salary Slip में Income Tax का उल्‍लेख कहां होता है

आयकर का जिक्र आपकी सैलरी स्लिप माहवार नहीं किया जाता है। लेकिन प्रत्‍येक वर्ष मई माह की वेतन पर्ची में आयकर यानि इनकम टैक्‍स का उल्‍लेख किया जाता है। वेतन पर्ची देख कर आप यह पता लका सकते हैं, कि आपके वेतन पर कितना इनकम टैक्‍स काटा जा रहा है।

यदि आप अपना इनकम टैक्‍स देना नहीं चाहते तो आप धारा 80C के तहत इनवेस्‍टमेंट करके अपना आयकर बचा सकते हैं।

सैलरी स्लिप के लाभ Benefits of Salary Slip 2021

  • Salary Slip संभाल कर रखने के बहुत लाभ होते हैं। इन लाभों की जानकारी आपको बिंदुवार दी जा रही है।
  • हम सैलरी स्लिप की सहायता से किसी भी कीमती सामान को आसान किस्‍तों पर आसानी से खरीद सकते हैं।
  • सैलरी स्लिप बैंक में प्रस्‍तुत करने पर लोन तुरंत फाइनेंस हो जाता है।
  • इससे हमें हमारे वेतन पर लगने वाले इनकम टैक्‍स की जानकारी प्राप्‍त होती है।
  • नौकरीपेशा लोगों को कितना बोनस तथा वैरिएबल पे किया जाता है, इसकी जानकारी प्राप्‍त होती है।
  • यह हमारे पीएफ अकाउंट से पैसा निकालने में भी काम आती है।
  • Also Read :
  • अप्रैटिंस संशोधन एक्‍ट क्‍या है?
  • यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट परीक्षा कार्यक्रम डाउनलोड कैसे करें?

वेतन पर्ची सैंपल फॉरमेट pdf / excel / word यहां पर देखें

Pay Slip Format pdf / excel / word
वेतन पर्ची की नमूना प्रति

यदि आप Salary Slip Sample Format pdf / excel / word को ऑनलाइन चेक करना अथवा देखना चाहते हैं तो आप ऊपर दी गयी इमेज का अध्‍ययन कर सकते हैं।

इस सैलरी स्लिप इमेज में आपको मूल वेतन, सभी प्रकार के अलाउंस तथा लगने वाले टैक्‍स की Information प्राप्‍त हो जायेगी।

अक्‍सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQ)

Pay Slip क्‍या होता है?

वेतन पर्ची / सैलरी स्लिप को ही Pay Slip बोला जाता है।

Salary Slip में कुछ समझ में न आने पर क्‍या करें?

यदि आपको सैलरी स्लिप में दी गयी जानकारी समझ नहीं आ रही है, तो आप इस बाबत अपनी कंपनी के HR से संपर्क कर जानकारी प्राप्‍त कर सकते हैं।

सैलरी पर पीएफ कितना कटेगा?

किसी भी नौकरी पेशा व्‍यक्ति के बेसिक अलाउंस की धनराशि के आधर पर पीएफ काटा जाता है। यह वेतन का 12 प्रतिशत कटता है।

क्‍या लीव ट्रेवल अलाउंस (छुटटी यात्रा भत्‍ता) सैलरी स्लिप में दर्ज होता है?

यदि आप अपने परिवार सहित किसी अन्‍य स्‍थान पर छुटटी बिताने जा रहे हैं, तो छुटटियों के दौरान की जाने वाली यात्रा लीव अलाउंस के तहत आती है। यदि आप अपना और अपने परिवार के ऊपर हुये ट्रेवल के खर्च के ब्‍यौरे का प्रूफ कंपनी में जमा कर देते हैं, तो आपको कंपनी की ओर से लीव अलाउंस दिया जाता है, जिसका जिक्र अगले माह की Salary Slip में दर्ज किया जाता है।

वेतन पर्ची में दर्ज कितने प्रतिशत बेसिक सैलरी टैक्‍सेबल होती होती है?

किसी भी नौकरी पेशा व्‍यक्ति की 100% बेसिक सैलरी कर युक्‍त होती है। यानि जिनती ज्‍यादा आपकी बेसिक सैलरी होगी उतना ही अधिक आपको टैक्‍स पे करना पड़ेगा।

हमारे पीएफ अकाउंट में कंपनी द्धारा कितना पीएफ जमा किया जाता है?

पीएफ अलाउंस के रूप में जितनी राशि आपके वेतन से काटी जाती है, कंपनी द्धारा उतनी ही धनराशि अपनी ओर से पीएफ खाते में जमा करती है।

तो दोस्‍तों यह थी हमारी आज की पोस्‍ट Salary Slip Kaise Check Kare , Salary Slip Format pdf / excel / word , Vetan Parchi / Pay Slip , How to Check Salary Slip in Hindi
के संबंध में कोई अन्‍य प्रश्‍न पूछना चाहते हैं, तो आप हमसें कमेंट बॉक्‍स के जरिये पूछ सकते हैं।

Spread the love

2 thoughts on “Salary Slip Check कैसे करें? Salary Slip Format pdf / Importance & Components”

    • आप निर्धारित प्रक्रिया का पालन करते हुये पुरानी सैलरी स्लिप के लिये आवेदन करें

      Reply

Leave a Comment

error: Content is protected !!